प्रेमिका से मिलने गए युवक को जिंदा जलाया, परिजनों पर आरोप

The young boy who went to meet his girlfriend was burnt alive, family members were accused

प्रेमिका से मिलने गए युवक को जिंदा जलाया, परिजनों पर आरोप

देवभूमि में मानवता को शर्मसार करने के मामले बढ़ते जा रहे हैं। अभी अल्मोड़ा में युवक की लिंचिंग का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि, अब चमोली में भी प्रेमिका से मिलने गए युवक को जिंदा जलाने ( Youth burnt alive in chamoli) की घटना ने दहला दिया है।

जानकारी के मुताबिक चमोली निवासी अमित थपलियाल अपनी प्रेमिका से मिलने उसके गांव नागनाथ पोखरी जा पहुंचा। जहां पकड़े जाने पर प्रेमिका के पक्ष वालों ने अमित को आग के हवाले कर दिया। जिसके बाद वह पूरी तरह से झुलस गया। इलाज के लिए अमित के परिजन कई अस्पतालों के चक्कर काटते रहे , आख़िर देहरादून के एक अस्पताल में अमित ने दम तोड़ दिया।

दरअसल ये वाकया 6 अप्रैल का है। पोखरी विकासखंड स्थित महड़ गांव निवासी अमित थपलियाल हरिद्वार में किसी प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था, जो 6 अप्रैल को हरिद्वार से अपनी प्रेमिका को मिलने (कुजासू) पोखरी आया था। अमित के पिता रमेश चंद्र थपलियाल का कहना है कि लड़की पक्ष द्वारा उनके बेटे को जान से मारने के उद्देश्य से आग लगाई गई। घटना के बाद लड़की के परिजनों ने अपने बचाव में अमित को कर्णप्रयाग अस्पताल में भर्ती कराया। इस दौरान अमित के परिजन भी सीएचसी कर्णप्रयाग पहुंच गए। सीएचसी में डॉक्टरों ने अमित की गंभीर स्थिति को देखते श्रीनगर बेस अस्पताल के लिए रैफर कर दिया। वहां से भी डॉक्टरों ने अमित को हायर सेंटर रेफर कर दिया। इसके बाद परिजनों ने अमित को देहरादून के केशव अस्पताल में भर्ती कराया। यहां भी अमित की हालत पर कोई सुधार नहीं आया तो परिजनों ने अमित को देहरादून के इंद्रेश अस्पताल में भर्ती कराया. जहां एक हफ्ते जिंदगी और मौत से जूझने के बाद अमित ने 13 अप्रैल की रात को दम तोड़ दिया।
पीड़ित पक्ष ने 30 अप्रैल को पटवारी चौकी में एफआईआर दर्ज की है। पीड़ित पक्ष ने मामले की जांच रेगुलर पुलिस को सौंपने की मांग की है।