श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान के तहत किच्छा शहर में निकाली गई रैली।

Rally Organized in Kichha under Shree Ram Janambhoomi Nidhi Campaign.

श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान के तहत किच्छा शहर में निकाली गई रैली।

किच्छा। श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान के तहत शहर में पैदल रैली निकाली गई। रैली में शामिल लोगों की ओर से जय श्री राम के उद्घोषों से शहर गुंजायमान हुआ। रैली में बड़ी संख्या में राम भक्तों ने पहुंचकर अपनी भागीदारी निभाई। 

रविवार को सैकड़ों की संख्या में भाजपा, आरएसएस सहित अन्य संगठनों से जुड़े लोग पुरानी गल्ला मंडी स्थित रामलीला मैदान में एकत्र हुए। रामलीला मैदान से श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण के अभियान प्रमुख अनिल अग्रवाल और जिला मीडिया प्रभारी विवेकदीप सिंह के नेतृत्व में पैदल रैली शुरू हुई। हाथ में भगवा झंडा और माथे पर भगवा पट्टिका लगाए उत्साह से लबरेज लोगों ने रैली में जय श्री राम के जयकारे लगाए। किच्छा एमपी चौक, डीडी चौक, दरऊ, आवास विकास होते हुए वापस रामलीला मैदान में जाकर समाप्त हुई। जहां पर प्रसाद वितरण भी किया गया। रैली का जगह-जगह लोगों ने पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। वक्ताओं ने कहा कि अयोध्या में प्रभु श्री राम की जन्म स्थली पर भव्य राम मंदिर का निर्माण होने जा रहा है। इसके तहत देशभर में हिंदू समाज को जागृत करने के लिए अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान से 13 करोड़ हिंदू परिवारों को जोडऩे का लक्ष्य रखा गया है। रैली की शुरूआत में समाजसेवी प्रकाश गोयल एवं उनके परिवार ने प्रभु श्रीराम का तिलक व आरती कर उन्हें प्रणाम किया। इस दौरान विधायक राजेश शुक्ला, वरिष्ठ समाजसेवी अजय तिवारी, मंडी सभापति कमलेंद्र सेमवाल, भाजपा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष शैली फुटेला, भाजपा नगर अध्यक्ष विवेक राय, जानकी तिवारी, पूर्व अध्यक्ष लवी सहगल, वरिष्ठ नेता दिनेश भाटिया, देवभूमि उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सचिन चावला, भाजयुमो अध्यक्ष शोभित शर्मा, सभासद संदीप अरोरा, सांसद प्रतिनिधि कुलदीप सिंह बग्गा, सुभाष तनेजा, मूलचंद राठौर, दया डसीला, मीरा तिवारी, प्रेमलता चौहान, महेंद्र पाल, किशन गोयल, प्रकाश पंत, सरन संधू, नीरज बजाज, भूपेंद्र नेगी, अभिषेक सक्सेना, राजीव सक्सेना, राजकुमार सक्सेना, राजकुमार गुप्ता, प्रबल चौहान, सचिन सक्सेना, नीतेश बाला, सुरेंद्र चौधरी, हर्ष गंगवार, हर्षित गंगवार, कमलजीत सोहल, विकास गुप्ता, अमित कोली आदि मौजूद थे।