पंचतत्व में विलीन हुई इंदिरा हृदयेश , अंतिम दर्शन के लिए उमड़ा जनसैलाब।

Indira Hridayesh merged into Panchatattva, crowd gathered for the last glimpse.

पंचतत्व में विलीन हुई इंदिरा हृदयेश , अंतिम दर्शन के लिए उमड़ा जनसैलाब।

हल्द्वानी: वरिष्ठ कांग्रेसी नेता, सदन में नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश पंचतत्व में विलीन हो गईं। चित्रशिला घाट पर इंदिरा के हजारों समर्थकों के बीच उनके छोटे बेटे सुमित हृदयेश ने इंदिरा को मुखाग्नि दी। इस दौरान हल्द्वानी में इंदिरा को श्रद्धांजलि देने आम से लेकर खास लोगों का भारी जमावड़ा लगा रहा।

गौरतलब है कि रविवार सुबह दिल्ली में उनका दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। मेडिकल एंबुलेंस के द्वारा उनके पार्थिव शरीर को हल्द्वानी लाया गया। हल्द्वानी में उनके अंतिम दर्शन के लिए कल शाम से ही लोगों का हुजूम उमड़ने लगा था। आज मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह गोविंद सिंह कुंजवाल, अजय भट्ट सांसद नैनीताल समेत कई मंत्रियों ने उनके पार्थिव शरीर पर श्रद्धांजलि अर्पित की।

चित्रशिला घाट जाते वक्त भी हजारों लोग उनके अंतिम दर्शन करने पहुंचे। लोग अपनी प्रिय नेता को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि दी रहे थे। चित्रशिला घाट पर पुलिस ने उनके पार्थिव शरीर को सलामी दी इसके बाद उनके छोटे बेटे सुमित हृदयेश ने चिता को मुखाग्नि दी। इस दौरान हल्द्वानी का चप्पा चप्पा इंदिरा हृदयेश अमर रहे और जब तक सूरज चांद रहेगा इन्दिरा तेरा नाम रहेगा के नारों से गूंज रहा था।