कुंभ 2021 में योगनगरी ऋषिकेश रेलवे स्टेशन से ट्रेनों का संचालन शुरू

Trains start operating from Yoganagri Rishikesh railway station in Kumbh 2021

कुंभ 2021 में योगनगरी ऋषिकेश रेलवे स्टेशन से ट्रेनों का संचालन शुरू

ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे प्रोजेक्ट के अन्तर्गत योगनगरी ऋषिकेश रेलवे स्टेशन से आज ट्रेनों का विधिवत संचालन शुरू हो गया है। इसके लिए उत्तरााखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और रेल मंत्री पीयूष गोयल का आभार व्यक्त किया है। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री जी का उत्तराखण्ड से विशेष लगाव है। प्रदेशवासियो का पहाड़ में रेल का सपना जल्द ही साकार होने जा रहा है। उन्होने कहा कि ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना और चारधाम सड़क परियोजना, प्रदेश के लिए विकास में मील का पत्थर साबित होगी। आवागमन के अच्छे संसाधनों से राज्य की आर्थिक गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी और बड़े पैमाने पर आजीविका के संसाधन विकसित होंगे। उन्होने कहा कि अब अन्य प्रदेशों की भांति भी उत्तराखण्ड में पर्यटक और श्रद्धालु रेल से आएंगे और उत्तराखंड के स्थानीय लोगो के लिए भी देश के अन्य शहरों और बाजारों तक आवागमन में सुगमता आयेगी।
    उत्तराखंड में 16,216 करोड़ रूपए की 125 किमी लम्बी ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना पर तेजी से काम चल रहा है। परियोजना को 2024-25 तक पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत इस परियोजना पर लगातार नजर रखे हुए हैं। उनके द्वारा समय-समय पर इसकी प्रगति की समीक्षा भी की जाती रही है। ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेलवे परियोजना, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का ड्रीम प्रोजेक्ट है। यह प्रोजेक्ट रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल की प्राथमिकताओं में भी है। रेल मंत्रालय द्वारा इस पर तेजी से काम किया जा रहा है। योगनगरी ऋषिकेश रेलवे स्टेशन का निर्माण पूरा होने के बाद यहां से सोमवार से विधिवत रूप से ट्रेनों का संचालन शुरू हो गया है। सुबह साढ़े दस बजे जम्मू-तवी एक्सप्रेस यहां पहुंची, जिसका तीर्थनगरी के लोगों ने दिल खोलकर स्वागत किया। हरिद्वार में होने जा रहे महाकुंभ के दौरान भी योगनगरी ऋषिकेश से रेलगाड़ियां चलेंगी। ऐसे में इस स्टेशन की अहमियत और भी बढ़ जाती है।