गैरसैंण में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र पेश कर रहे हैं 57 हजार 400 करोड़। वर्ष 2021-22 का आम बचट

Chief Minister Trivendra is presenting 57 thousand 400 crores common budget of 2021-22 in Garsain

गैरसैंण में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र पेश कर रहे हैं 57 हजार 400 करोड़। वर्ष 2021-22 का आम बचट

गैरसैंण में सीएम त्रिवेंद्र पेश कर रहे हैं वर्ष 2021-22 का आम बजट।

करीब 57 हजार 400करोड़ का बजट पेश हो रहा है।

राष्ट्रीय पोषण मिशन हेतु 43.71 करोड़ तथा अनुपूरक पोशक आहार के लिए 482 करोड़ रुपए का प्रावधान किया जा रहा है।

समाज कल्याण विभाग पर खर्च होंगे करीब 1153 करोड़ रुपए

स्वास्थ्य विभाग के लिए 3319 करोड़ रुपए का बजट

अटल आयुष्मान योजना के लिए 150 करोड़ का बजटीय प्रावधान

अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज के लिए 226 करोड़ का प्रावधान

समग्र शिक्षा अभियान के तहत 1154 करोड़ का प्रावधान

शिक्षा का अधिकार के तहत 153 करोड़ का प्रावधान

हरिद्वार महाकुंभ के तहत 7 नए पुलों का निर्माण, आस्था पथ का निर्माण, किया गया है। भीड़ नियंत्रण के लिए 310 ससीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। कुंभ क्षेत्र में 11 हजार शौचालय व 1670 स्नानागार का निर्माण कि.या गया है।

आगामी वित्त वर्ष में सड़क निर्माण के लिए पीडब्ल्यूडी को 1511 करोड़ रुपए का प्रावधान। इसके तहत 843 किमी सड़कों का निर्माण, 743 किमी सड़कों का पुनर्निर्माण तथा 43 पुलों का निर्माण शामिल है। सड़कों के रखरखाव व सुधारीकरण के लिए भी 385.87 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

उद्योग विभाग के तहत विभिन्न कार्यक्रमों के तहत ऋण, सब्सिडी, ग्रोथ सेंटर स्थापना आदि के लिए 132.60 करोड़ का प्रावधान

स्मार्ट सिटी से संबंधित कार्यों के लिए 695 करोड़ का प्रावधान

त्रिस्तरीय पंचायतों के लिए 425 करोड़ का प्रावधान, ग्राम स्वराज अभियान के लिए 49.86 करोड़ का प्रावधान

मुख्यमंत्री पलायन रोकथाम योजना के तहत स्वरोजगार के अवसर देने व कौशल विकास के लिए 18 करोड़ का प्रावधान

मनरेगा के लिए 272.45 करोड़ का प्रावधान

स्वच्छ भारत मिशन(ग्रामीण) के तहत वेस्ट मैनेजमेंट व सीवरेज ट्रीटमेंट के लिए 101 करोड़ का प्रावधान

जल जीवन मिशन तथा पेयजल से संबंधित योजनाओं के लिए 667 करोड़ का प्रावधान

जामरानी बांध परियोजना के लिए 240 करोड़ रुपए का बजटीय प्रावधान

मुख्यमंत्री घस्यारी कल्याण योजना के लिए 25 करोड़ का प्रावधान

किसानों एवं किसान समूहों को 47 करोड़ रुपए का ब्याजमुक्त ऋणवितरित किया गया

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत राज्य में फिश आउटलेट्स के लिए 17.33 करोड़ का प्रावधान

कृषि तथा संबंधित क्षेत्र में प्राथमिकता से सुधार किए हैं।

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के लिए 67.94 करोड़ का प्रावधान

राज्य कृषि विकास योजना के लिए 20 करोड़ का प्रावधान

एकीकृत आदर्श कृशि योजना के लिए 12 करोड़ का प्रावधान

गन्ना किसानों का समय पर भुगतान करने के लिए 245 करोड़ रुपए का प्रावधान बजट में किया गया।

इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में राज्य में अभूतपूर्व कार्य हो रहा है। डबल इंजन सरकार अपेक्षाओं के अनुरूप काम कर रही है। वर्षों से लटके डोबरा चांठी पुल का काम पूरा कराया है। जानकी सेतु बनाया है।

केंद्र से राज्य के लिए कई योजनाओं को मंजूर किया है।

पलायन रोकने के लिए कदम उठाए, रिवर्स पलायन के लिए लोग प्रेरित हुए हैं।

सीमांत क्षेत्रों के विकास के लिए सीमांत क्षेत्र विकास परियोजना लागू की है।

सूचना प्रौद्योगिकी का लाभ आम जन तक पहुंचाने के प्रयास किए हैं।

सीएम हेल्पलाइन से आमजन को लाभ मिल रहा है।

बेटी बचाओ के क्रियान्वयन में हम कई राज्यों से आगे रहे।

15वें वित्त आयोग में केंद्र से भरपूर मदद मिली। करीब 89 हजार करोड़ की रकम अगले 5 साल में मिलेगी

सीएम ने आपदा में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी। आपदा के दौरान हमारी संस्थाओं ने सराहनीय कार्य किया। एसडीआरएफ की भी सीएम ने तारीफ की।

सीएम ने गिनाई उपलब्धियां, चुनौतियों के बावजूद प्रगति कर रहे हैं।

कोरोना काल में अच्छा काम करने वालों को सीाएम ने सराहा।