बाल विकास परियोजना द्वारा महिलाओं की गोद भराई का कार्यक्रम आयोजित कराया

Child Development Project organized women's baby show

सितारगंज में गर्भवती महिलाओं और बच्चों की देखरेख के सही तौर-तरीकों को बताने के लिए बाल विकास परियोजना द्वारा गोद भराई एवं बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें बताया गया कि गर्भावस्था के दौरान क्या-क्या सावधानी बरतें और कब कौन से टीके लगवाने चाहिए।
सोमवार को वार्ड नंबर 5 स्थित राजकीय इंटर कॉलेज प्रांगण में बाल विकास परियोजना के अंतर्गत आंगनबाड़ी केंद्रों की संचालिकाओ द्वारा गोद भराई का कार्यक्रम आयोजित किया। इसमें बाल विकास परियोजना सीडीपीओ मंजू सिंह, अतिथि वार्ड नंबर पांच सभासद रवि रस्तोगी, वार्ड नंबर 4 सभासद मस्जिदन बेगम, वार्ड नंबर 7 सभासद सोनल गुप्ता की उपस्थिति में गर्भवती जीनत, नीलम, नसीम, जायरा आदि महिलाओं की गोद भराई की रस्म  अदा की। इस अवसर पर बाल विकास परियोजना अधिकारी मंजू सिंह ने बताया कि गर्भवती महिलाओं को गर्भ के तीसरे माह बाद टीटी के दो टीके एक माह के अंतराल पर अवश्य लगवाने चाहिए। नवजात शिशुओं की देखभाल की जानकारी दी। उन्हाेंने बताया कि नवजात शिशु को एक घंटे के अंदर मां का दूध अवश्य पिलाना चाहिए। सभासद रवि रस्तोगी ने कहा कि ''जिस घर में बेटी है, वह घर स्वर्ग है। कोई भी पर्व बिना बहन-बेटी के अधूरा है। उसमें न तो उल्लास होता है और न ही उत्साह। भारतीय संस्कृति में नारी को सर्वोच्च महत्व दिया गया है। कन्या भ्रूण हत्या जैसी सामाजिक बुराइयों के खिलाफ सभी को मिल कर लड़ाई लड़नी होगी।