18 मई को प्रातः 4:15 बजे खुलेंगे बद्री विशाल के कपाट

Badrinath kapat will open on May 18 at 4:15 am

18 मई को प्रातः 4:15  बजे खुलेंगे बद्री विशाल के कपाट

बसंत पंचमी के अवसर पर भू बैकुंठ श्री बद्रीनाथ धाम (Badrinath) के कपाट खोलने की तिथि घोषित की गई है। बद्रीनाथ धाम के कपाट ग्रीष्मकाल के लिए 18 मई को खोले जाएंगे। बद्री विशाल के कपाट श्रद्धालुओं के लिए 18 मई प्रातः 4:15 पर खोल दिए जाएंगे। गाडू घड़ा यात्रा  29 अप्रैल को सुनिश्चित की गई है। बद्रीनाथ धाम विश्वप्रसिद्ध चारधामों (Char Dham Yatra) में से एक है।  

टिहरी नरेश और महारानी की मौजूदगी में नरेंद्रनगर राजदरबार में श्री बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने और महाभिषेक के लिए तिलों का तेल निकालने की तिथि घोषित की गई। बसंत पंचमी के शुभ मुहूर्त को देखते हुए ही प्राचीनकाल से श्री बद्रीनाथ धाम के कपाट खोलने की तिथि का निर्धारण की परंपरा आज भी कायम है। पुरातन काल से इस दिन नए साल के पंचांग का पूजन कर टिहरी महाराजा को भेंट किया जाता है। ज्योतिषी पंचांग देखकर आज नरेंद्रनगर में भगवान बद्रीविशाल के कपाट खोलने की तिथि निकाली जाती है।

बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने की प्रक्रियाएं सोमवार से शुरू हो गई थी। सोमवार को डिम्मर गांव के लक्ष्मी-नारायण मंदिर में गाडू घड़ा की वैदिक मंत्रोचारों के साथ पूजा की गई। इसके बाद गाड़ू घड़ा यात्रा मंगलवार को नरेंद्रनगर राजदरबार पहुंची। जहां विघिवत रूप से कपाट खोलने के मुहूर्त की घोषणा हुई।