औद्योगिक इकाईयों को प्रोत्साहित व गति देने के उद्देश्य से जिलाधिकारी श्रीमती रंजना राजगुरू ने अधिकारियों को दिये दिशा-निर्देश।

For the purpose of encouraging and giving impetus to industrial units, District Collector Smt. Ranjana Rajguru gave directions to the officers

औद्योगिक इकाईयों  को प्रोत्साहित व गति देने के उद्देश्य से जिलाधिकारी श्रीमती रंजना राजगुरू ने अधिकारियों को  दिये दिशा-निर्देश।

जनपद की औद्योगिक इकाईयों में उत्पादित वस्तुओं के निर्यात को प्रोत्साहित व गति देने के उद्देश्य से जिलाधिकारी श्रीमती रंजना राजगुरू ने कलक्ट्रेट सभागर में उद्योग मित्र व सम्बन्धित अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक लेते हुये आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। बैठक में एनएच की समीक्षा के दौरान नेशनल हाईवे में किये जा रहे कार्यो की विस्तृत जानकारी लेते हुये एनएचएआई व लोनिवि के अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये कि गाबा चैक, भदईपुरा क्षेत्र, तीन पानी पुल निर्माण, गदरपुर बाईपास निर्माण, पुलभट्टा में सडक निर्माण व आरओबी निर्माण के कार्यो को समयबद्ध, गुणवत्ता व पादर्शिता के साथ पुरा करना सुनिश्चित करें।

उन्होने कहा कि छोटे-छोटे अधुरे निर्माण कार्यो से आम जनता परेशान होती है इस लिये अधिकारी सकारात्मक सोच के साथ कार्य करें। उन्होने कहा कि रोड सुरक्षा सम्बन्धित विभाग की जिम्मेदारी है ताकि दुर्घटना से होने वाली जनहानि को रोका जा सकें। जिलाधिकारी ने पुलभट्टा में निर्माणाधीन आरओबी निर्माण में देरी पर नाराजगी व्यक्त करते हुये कहा कि अधिकारी अपनी जिम्मेदारी को गम्भीरता से लेते हुये कार्यो को शीघ्र पुरा करे नही तो आवश्यक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी साथ ही एफआईआर दर्ज की जायेगी। उन्होने कहा कि सम्बन्धित विभाग जिन स्थानों पर कोई समस्या नही है उन स्थानो के निर्माण कार्यो को प्राथमिकता के आधार पर शीघ्र पुरा किया जाये। उन्होने कहा कि यदि कही कोई समस्या आती है तो अवगत कराये जिससे समस्या का सामाधान किया जा सकें। उन्होने कहा कि समस्या का सामाधन निकालना होगा ताकि औद्योगिक क्षेत्र में जो भी समस्याएं है उनका शीघ्र निस्तारण किया जा सके। उन्होने पीडी एनएच को निर्देश दिये कि एडीएम, एसडीएम के साथ बैठक कर किये गये कार्यो का समाधान निकाले। समीक्षा में काशीपुर बाईपास निर्माण के कार्यो की जानकारी लेते हुये सम्बन्धित अधिकारी द्वारा बताया गया कि 31 मार्च तक निर्माण कार्य पुरा कर लिया जायेगा व यातायात प्रारम्भ कर दिया जायेगा। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देश दिये कि काशीपुर के बासखेडा, महुआखेडा, गढी हुसैन, दबौरा मुस्तकीम, भवालीपुर क्षेत्र के लोगों के साथ बैठक कर सडक निर्माण के कार्यो को पुरा करना सुनिश्चित करें।
    जिलाधिकारी ने एनएच के अधिकारियों निर्देश दिये कि सडक निर्माण के दौरान पानी निकासी का ध्यान रखते हुये निर्माण कार्य किया जाये ताकि आवादी क्षेत्र में जल भराव की समस्या उत्पन्न न हो। उन्होने लोनिवि के अधिकारियो को निर्देश दिये कि सितारगंज से सिडकुल व चोरगलिया सडक तथा महुआखेडागंज के सडक चैडीकरण का प्रस्ताव बनाकर प्रस्तुत करें ताकि शासन को पे्रषित किया जा सकें। उन्होने कहा कि आये दिन इन स्थानों पर दुर्घटना होती है जिसे रोकना अति आवश्यक है। उन्होने कहा कि जनहानि किसी की भी गलती होती है तो उसके खिलाफ आवश्यक कार्यवाही की जायेगी। उन्होने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि औद्योगिक क्षेत्र में जो पाॅवर कट एवं त्रिपलिंग की समस्या उत्पन्न हो रही है उसके लिये अपने अधीनस्त अधिकारियो व कर्मचारियों के साथ समन्वय स्थापित करते हुये जिम्मेदारी सौपे ताकि समस्या का समाधान निकल सके। उन्होने कहा कि उद्योग निरंतर चलता रहे यह हमारी जिम्मेदारी होनी चाहिये। उन्होने कहा कि जो भी विद्युत सब स्टेशन के निर्माण कार्य चल रहे है उन्हे प्राथमिकता के आधार पर कार्यो में गति प्रदान करे व सम्बन्धित विभाग कार्यदायी संस्था से समन्वय स्थापित करते हुये शीघ्र कार्यो को पुरा करना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि उद्योगों की प्रदेश के विकास में एक अहम भूमिका होती इस लिये उद्योगो की जो भी समस्याएं उत्पन्न हो रही है उन सभी का मिल कर हमें समाधान करना होगा ताकि विकास की उचाईयों को छुआ जा सकें। जिलाधिकारी ने एडीएम उत्तम सिंह चैहान को निर्देश दिये कि एनएच, एनएचएआई एवं लोनिवि के अधिकारियों के साथ प्रत्येक सप्ताह बैठक कर किये गये कार्यो की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत करें।


       समीक्षा में केजीसीसीआई के अध्यक्ष अशोक बंसल द्वारा औद्योगिक क्षेत्र की अनेक समस्याओं से अवगत कराते हुये कहा कि एनएच, लोनिवि, द्वारा जिन स्थानो पर सडक निर्माण के कार्य अधुरे है उन्हे शीघ्र ठीक किया जाये ताकि वाहनो के आवगमन में कोई असुविधा न हो। उन्होने विद्युत विभाग की समस्याओ से अवगत कराते हुये कहा कि जो बार-बार पाॅवर कट व त्रिपलिंग होती है उसे रोका जाये। एयरपोर्ट से प्रतिदिन हवाई सेवा होनी चाहिये ताकि एक्सपोर्ट को बल मिल सकें व व्यापार के कार्य को शुगम पूर्ण तरीके से किया जा सकें। उन्होने कहा कि रूद्रपुर से बंग्लादेश, दिल्ली, जम्मू आदि स्थानों के लिये रेल की सेवायें बढायी जाये
      इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी हिमांशु खुराना, एएसपी प्रमोद कुमार, ओसी एनएस नबियाल, पीडी एनएचएआई योगेन्द्र शर्मा, बीडी पाठक, अधिशासी अभियन्ता मनोज दास, क्षेत्रीय प्रबन्धक सिडकुल पारितोष वर्मा, कमल किशोर कफल्टिया, प्रशानिक अधिकारी उद्योग ओपी भट्ट, यूपीसीएल के नवीन मिश्रा, अधिशासी अभियन्ता लोनिवि काशीपुर अरूण कुमार सहित अनेक उद्यमी व अधिकारी  उपस्थित थे।