एयरपोर्ट को जोड़ने वाला बड़ासी पुल ध्वस्त, लोक निर्माण विभाग पर उठे सवाल

Badasi bridge connecting airport demolished, questions raised on Public Works Department

एयरपोर्ट को जोड़ने वाला बड़ासी पुल ध्वस्त, लोक निर्माण विभाग पर उठे सवाल

देहरादून: देहरादून में थानो रायपुर मार्ग पर एयरपोर्ट को जोड़ने वाला बड़ासी पुल का एक हिस्सा भरभराकर गिर पड़ा। यह पुल तीन साल भी नहीं झेल सका इससे लोक निर्माण विभाग की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। बताया जा रहा है कि पुल को इन्वेस्टर्स समिट के दौरान जल्दबाजी में तैयार किया गया,जिसमें भारी लापरवाही बरती गई।

बुधवार को हुई बरसात के बाद बड़ासी पुल की एप्रोच रोड का करीब 20 मीटर हिस्सा ध्वस्त हो गया। इससे मार्ग पर बड़े वाहनों का आवागमन ठप हो गया है। हालांकि छोटे वाहनों को सावधानी से गुजरने दिया जा रहा है। बड़ासी पुल को साल 2018 में हुई इन्वेस्टर्स समिट के दौरान बनाया गया था। पूर्व सीएम त्रिवेंद्र ने इसका उद्घाटन किया था। माना जा रहा है कि उस वक्त जल्दबाजी में अधिशासी अभियंता द्वारा ये काम लापरवाही से पूरा किया गया। यही वजह है कि पुल तीन साल का समय भी नहीं झेल पाया। घटना की सूचना पर राजमार्ग खंड के अधीक्षण अभियंता रणजीत सिंह, अधिशासी अभियंता जेएस रावत मौके पर पहुंचे और कारणों की पड़ताल की जाने लगी।

इस पुल के बनने के बाद से ही इस पर सवाल उठने लगे थे। पहले भी पुल के पिलर में दरार की खबरें सामने आई थी। इस पुल से थोड़ी दूरी पर स्थित भोपालपानी पुल में भी दरार की खबरें आई थी। जिस पर जांच भी बैठी और चार अभियंताओं को निलंबित भी कर दिया गया था। लेकिन बड़ासी पुल की लापरवाही पर लीपापोती ही की गई। विभाग ने ठेकेदार और अभियंता से विस्तृत रिपोर्ट मांगी थी। लेकिन अभियंता व ठेकेदार ने बिना अनुमति के ही रिटेनिंग वॉल को सपोर्ट देने के लिए पिलर खड़ा करने का काम शुरू कर दिया। हालांकि जांच का क्या हुआ ये किसी को पता नहीं। न ही इस मामले में किसी को जिम्मेदार ठहराया गया और न ही ठोस कार्रवाई हुई।